Path TOPI SHUKLA mein  Iffan ki dadi mili-juli sanskriti mein vishvas kyu rakhti thi ?
Udahran sahit spasht kijiye.


आपका उत्तर इस प्रकार है-

इफ़्फ़न की दादी का धर्म के प्रति विचार बहुत खुला था। एक जमींदार की बेटी थी मगर उनकी शादी एक मौलवी के घर हुई थी। उनको सभी प्रकार का गाना-बजाना बहुत पसंद था। वह पूरब में बोली जाने वाली भाषा का इस्तेमाल करती थी। हिंदू भी इसी भाषा का प्रयोग करते हैं। वह धर्म के स्थान पर स्नेह को महत्त्व देती थी।  वह मुलमान होते हुए भी टोपी से बहुत स्नेह रखती थी।
  • 16
इफ़्फ़न की दादी का धर्म के प्रति विचार बहुत खुला था। एक जमींदार की बेटी थी मगर उनकी शादी एक मौलवी के घर हुई थी। उनको सभी प्रकार का गाना-बजाना बहुत पसंद था। वह पूरब में बोली जाने वाली भाषा का इस्तेमाल करती थी। हिंदू भी इसी भाषा का प्रयोग करते हैं। वह धर्म के स्थान पर स्नेह को महत्त्व देती थी।  वह मुलमान होते हुए भी टोपी से बहुत स्नेह रखती थी।
  • -4
What are you looking for?