इस दोहे का अर्थ क्या है ?.

रहिमन यही संसार मे, सब सो मिलिए धाई |

ना जाने केहि रूपमे, नारायण मिल जाई ||

अर्थात इस संसार में सबसे प्रेमूपर्वक मिलिए क्योंकि किसी को नहीं पता है कि किस रूप में भगवान के दर्शन हो जाए।

  • 5
What are you looking for?